वेदान्त की परम भावभूमि

कमले कमलोत्तपत्तिः श्रुयते न च दृष्यते दृष्टं शंभोः पदाम्भोजे विष्णुलोचन पंकजम्। कमल मे कमल की उत्पत्ति तो कही भी नही दिखती किन्तु मैने तो शंभो के चरणकमलो में विष्णु नयन कमल खिलते देखा… Continue reading

माँ ललितादेवी शक्तिपीठ

बहुत कम हिन्दू जानते हैं कि इलाहावाद स्थित ललिता देवी शक्ति पीठ ईक्यावन शक्ति पीठों में विशेष रूप से महत्वपूर्ण तथा पूजनीय है। जिन ईक्यावन शक्ति पीठों का नाम शास्त्रों मे आता उसमें… Continue reading

अयी! तव चरण चारणम्

प्रेमातिभरनिर्भिन्नपुलकाङ्गोऽतिनिर्वृतिः। आनन्दसम्प्लवे लीनो नापश्यमुभयं मुने।।-भागवतम् हे मुने! उस समय प्रेमभाव मे अत्यन्त उद्रेक से मेरा रोम रोम पुलकित हो उठा था। हृदय अत्यन्त शान्त और शीतल था, उस आनन्द के प्रवाह मे मुझे… Continue reading